आधार कार्ड न्यूज़ एनबीएफसी व पेमेंट सिस्टम ऑपरेटर को देगा आरबीआई ईकेवाईसी लाइसेंस

देशभर में चल रहे केवाईसी वेरीफिकेशन फ्रॉड को लेकर आरबीआई शख्त हुआ है ऐसे में अब आरबीआई चाहती है ई आधार बेस्ट ईकेवाईसी लाइसेंस धारक नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनियां साथ में पेमेंट सिस्टम प्रोवाइडर्स को प्रदान कर दे। इसके लिए देश के ज्यादातर एनबीएफसीएस और पेमेंट सिस्टम प्रोवाइडर आधार बेस्ड ईकेवाईसी लाइसेंस के लिए आरबीआई में एप्लीकेशन दे सकती हैं

ऐसे आवेदनों को रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया स्वीकार करके चेक करेगी और यदि आरबीआई पाती है कि ऐसे पेमेंट सिस्टम पार्टिसिपेंट्स और एनबीएफसी अगर आधार बेस्ड वेरिफिकेशन के लिए एलिजिबल है तो उनको लाइसेंस केवाईसी मिल जाएगा।

केवाईसी फ्रॉड को लेकर आरबीआई हुआ शख्त

देश में चल रहे केवाईसी वेरीफिकेशन को लेकर के जितने भी फ्रॉड हो रहे हैं आरबीआई ने सारे बैंक और एनबीएफसी को अलर्ट जारी किया और साथ ही लोगों में भी जागरूकता फैलाने का अभियान चलाया इस अभियान के तहत आरबीआई का कहना है कि बैंक की डिटेल या पासवर्ड या क्रेडिट कार्ड की कोई जानकारी या डेबिट कार्ड की कोई भी जानकारी किसी भी व्यक्ति के साथ कभी साझा नहीं करनी चाहिए कोई भी यदि केवाईसी वेरीफिकेशन को ले करके धोखाधड़ी करता है तो उसकी शिकायत सीधे आप आरबीआई को कर सकते हैं।

ऐसे हो रहा है केवाईसी के नाम पर प्लॉट

हर दूसरे दिन केवाईसी वेरीफिकेशन को लेकर के फ्रॉड s.m.s. , फ्रॉड ईमेल, फ्रॉड कॉल आते हैं और उसके बाद कस्टमर से बैंकिंग अकाउंट डिटेल लेकर के लोगों के पैसे खाली कर दिए जाते हैं इन पर्सनल डिटेल में लॉगइन डिटेल, अकाउंट डिटेल, डेबिट कार्ड डिटेल , क्रेडिट कार्ड डिटेल , ओटीपी या फिर पिन लेकर के फ्रॉड करने वाले स्पैमर फ्रॉड करते हैं कस्टमर को डर होता है कि उनका बैंक अकाउंट बंद ना हो जाए तो ऐसी धमकी और चेतावनी से डरकर वह भी अपना डिटेल शेयर कर देते हैं और उसके बाद वह ठग लिए जाते हैं।

आरबीआई ऐसे केवाईसी फ्रॉड के नाम से छुटकारा चाहती है और शायद यही अच्छे स्टैप लेना चाहती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *